21 April 2014
india visionblogfacebookfeedburnercontact us

कांग्रेस ने सीबीआई क...

2013-07-05 17:14:58

चंडीगढ़, 5 जुलाई (अनिल लाम्बा) : इनेलो नेता व ऐलनाबाद के विधायक चौधरी अभय सिंह चौटाला ने कहा कि कांग्रेस के घोटालों को जब भी किसी विपक्षी नेता ने उजागर किया है तब-तब कांग्रेस ने उन नेताओं को दबाने का काम किया है। उन्होंने कहा कि इसी षड्यंत्र के तहत कांग्रेस ने सीबीआई का दुरुपयोग कर इनेलो नेताओं को जेल भिजवाया तथा इसी तरह ममता आई बेनर्जी ने जब कांग्रेस से समर्थन वापिस लिया तो उनके भाईयों के खिलाफ केस बनवाए। वहीं करुणानिधि ने जब कांग्रेस से समर्थन वापिस लिया तो उनके बेटे स्टालिन के प्रतिष्ठानों पर छापे मारने का काम कांग्रेस द्वारा करवाया गया। ऐलनाबाद के विधायक शुक्रवार को शाहबाद में इनेलो कार्यकत्र्ताओं को स मेलन को स बोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि प्रदेश की कांग्रेस सरकार इतने पाप व भ्रष्टाचार कर चुकी है कि अब प्रदेश की जनता कांग्रेस को सबक सिखाने के लिए पूरी तरह से तैयार है। उन्होंने कहा कि आज देश में हालात इस प्रकार हैं कि जनता चुनाव की बाट जोह रही है। उन्होंने कार्यकत्र्ताओं से आह्वान किया कि वे मजबूत बूथ इकाई का भी गठन करें ताकि पार्टी की जड़ें और अधिक गहरी हो सकें। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के राज में अपराधों का बोलबाला है और कोई भी इस राज में खुद को सुरक्षित महसूस नहीं कर रहा। इनेलो नेता ने कहा कि व्यापारियों से लूटपाट और महिलाओं से बलात्कार की बढ़ती घटनाओं से हरियाणा की जनता में असुरक्षा की भावना है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस एनसीआर के नाम पर राजनीतिक बयानबाजी कर रही है। कांग्रेस से प्रदेश के विकास से कोई सरोकार नहीं है तथा जनता को बुनियादी सुविधाएं मुहैया करवाने में कांग्रेस नकारा साबित हुई है। उन्होंने कहा कि शिक्षा, रोजगार, बिजली और पानी जैसी मूलभूत आवश्यकताओं को पूरा करने में प्रदेश सरकार विफल रही है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में इनेलो की लहर से कांग्रेस की नींव हिल गई है और आने वाले चुनावों में जनता कांग्रेस का सूपड़ा साफ कर देगी। इनेलो नेता ने इंद्री में भी बैठक को स बोधित किया। इंद्री की बैठक पार्टी के विधायक डॉ. अशोक कश्यप ने की व मंच संचालन महेंद्र सैनी ने किया। बैठक में इनेलो नेताओं ने कांग्रेस पर तीखे प्रहार किए। चौधरी अभय सिंह चौटाला ने आरोप लगाया कि यमुना के उफान के समय मु यमंत्री ने सोनिया गांधी के इशारे पर दिल्ली को बचाने के लिए प्रदेश को बाढ़ की चपेट में धकेल दिया। मु यमंत्री के आदेश पर अधिकारियों द्वारा तटबंध तोड़ दिए जाने के कारण इन्द्री क्षेत्र के कईं गांव में बाढ़ का पानी आ गया। अशोक अरोड़ा ने कहा कि इनेलो ताऊ देवी लाल की जनहितैषी नीतियों को लेकर आगे बढ़ रही है। लेकिन कांग्रेस जनता की खून-पसीने की कमाई को दोनों हाथों से लूट रही है। डॉ. अशोक कश्यप ने कांग्रेस सरकार पर इन्द्री क्षेत्र के साथ भेदभाव करने का आरोप लगाते हुए कहा कि इन्द्री क्षेत्र की अधिकतर सड़कें जर्जर हो चुकी हैं। युवाओं के पास डिग्रियां व योग्यता है, लेकिन भेदभाव के कारण उन्हें नौकरियों से वंचित किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि इनेलो के शासनकाल में ही प्रदेश व इन्द्री क्षेत्र को स मान व विकास के मौके मिलेंगे। इस मौके पर पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव बृज शर्मा, जिला प्रधान यशवीर राणा,घरौंडा विधायक नरेन्द्र सांगवान, नीलोखेड़ी के विधायक मामूराम गोंदर, पिछड़ा वर्ग प्रदेशाध्यक्ष तेलूराम जोगी, जिला उपाध्यक्ष इन्द्रजीत सिंह गोल्डी, हलका प्रधान गुरदेव सिंह, शहरी प्रधान प्रदीप का बोज, सुमेरचंद का बोज, सतीश सरोहा, सतपाल मलिक, जसविन्द्र गढ़ीबीरबल व गगनदीप सिंह लक्की सहित पार्टी के अनेक नेता मौजूद थे। इनेलो के प्रदेशाध्यक्ष अशोक अरोड़ा ने कहा कि कांग्रेस लूट व झूठ की सरकार है और कांग्रेस के राज में 16 बार डीजल के दाम बढ़ाकर किसानों को कमजोर करने का काम किया गया है। प्रदेश सरकार ने राजीव गांधी एजुकेशन सिटी के नाम पर जमीन का जबरन अधिग्रहण कर किसानों को बर्बाद किया है। किसानों की करोड़ों की जमीन कौडिय़ों के भाव  अधिगृहित कर हजारों किसानों को उजाडऩे का काम किया है। उन्होंने कहा कि इसका बदला आने वाले चुनावों में प्रदेश की जनता कांग्रेस से जरूर लेगी। इस मौके पर पूर्व कृषि मंत्री जसविन्द्र संधू, तेलू राम जोगी, जिला प्रधान कुलदीप सिंह मुलतानी, संतोष दहिया ने भी विचार व्यक्त किये। इस अवसर पर बूटा सिंह लुखी, स्वर्णजीत सिंह कालड़ा, सूबे सिंह त्यौड़ी, जय सिंह, प्रवीन चौधरी, रेखा बाल्मीकि, पवन गौतम, जगबीर मोहड़ी, संदीप अजराना, सतपाल खरींडवा नरेश मित्तल, धनपत अग्रवाल, परपिन्द्र संधू, मायाराम, बालेश राणा, जय नारायण, जितेन्द्र वाल्मीकि, पुष्प राज अग्रवाल, बलबीर सिंह सहित बड़ी सं या में इनेलो कार्यकत्र्ता मौजूद थे।


Read More...

कांग्रेसी मैनेजरों औ...

2012-12-17 14:58:25

कांग्रेसी मैनेजरों और सता की लोभी भाजपा की नैय्या मंझधार में इस बार चश्मा दिखाएगा सभी को सही चेहरा रेवाड़ी रैली के बाद बदली प्रदेश की राजनीतिक फिजा करनाल, 17 दिसम्बर (अनिल लांबा) : पिछले कई सालों से हरियाणा की सता में आने को बेकरार हो रही भाजपा तथा खरीद फिरोख्त के जरिए हरियाणा की सता पर काबिज कांग्रेस की नैय्या इस बार मंझधार में है। कल्पना चावला मैडिकल कालेज बनाने का लगातार श्रेय हासिल करने में जुटी कांग्रेस भीड़ जुटाने में तब नाकाम हो रही है जब सरकारी तंत्र का सहारा लेकर पंचायतों पर दबाव बनाया जा रहा है। बावजूद इसके कांग्रेस को लोग मुंह लगाने को तैयार नही है। इस बार हरियाणा में कांग्र्रेसी मैनेजरों का मैनेजमैंट रवैया चलने वाला नही दिख रहा। वहीं भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष नीतिन गडकरी पर लगे भ्रष्टाचार के आरोपों के बाद बचाव में उतरा संघ भी अब चुप होकर बैठ गया है। हालांकि नए अध्यक्ष का चुनाव जल्दी होना बाकी है। उम्मीद लगाई जा रही है कि भ्रष्टाचार के आरोपों से घिरे गडकरी को तुरंत बाहर का रास्ता दिखाने की बजाय भाजपा अध्यक्ष के चुनावों के दौरान उसे बाहर का रास्ता दिखाकर अपनी किरकरी  से बचाव का रास्ता तलाशेगी, लेकिन इसका असर हरियाणा की राजनीति पर पड़ता हुआ दिखाई दे रहा है। पिछले 5 सालों से राजनीति में आई हजकां हालांकि अपना आस्तित्व तलाश करने में जुटी है और अभी प्रदेश की राजनीति में पैर जमा रही है, लेकिन जिस तरह के समीकरण इस बार हरियाणा में तैयार हो रहे है उससे लगता है कि चौटाला का चश्मा इस बार अन्य पार्टियों के नेताओं को सही चेहरा दिखा सकता है। हालांकि इनैलों प्रमुख ओम प्रकाश चौटाला बार-बार यही कह रहे है कि हजकां-भाजपा का गठबंधन टूट सकता है। इसकी प्रमुख वजह यह मानी जा रही है कि लगातार मजबूत हुई इनैलों यदि लोकसभा चुनावों में अकेले ही 5 या उससे अधिक सीटे झटकने में कामयाब हुई तो हजकां की तारीफों के पुल बांधने में जुटी भाजपा एक ही झटके में हजकां से दामन छुड़ाकर इनैलों से गठबंधन कर सकती है। ऐसी स्थिति में आने वाले विधानसभा चुनावों में इनैलों का सता में लौटना लगभग तय हो जाएगा। अजय चौटाला अब फिर पदयात्रा कर रहे है। इनैलों प्रमुख ओम प्रकाश चौटाला स्वयं लगातार दौरे करके इनैलों को लगातार मजबूत बनाने पर जुटे है।  अहीरवाल क्षेत्र में एक नवम्बर को हुई इनैलों की रैली में जुटी  लाखों की भीड़ ने यह साबित कर दिया कि चश्मे का असर अब प्रदेश की जनता पर पडऩे लगा है। यदि पिछले 8 साल की सता का हिसाब-किताब लगाया जाए तो पहले के 5 साल सता के दौरान पूर्ण बहुमत के साथ आई कांग्रेस ने  महिलाओं को एक दिन की मुफ्त बस यात्रा के अलावा और कुछ नही दिया। बिजली उत्पादन और उसके सरपल्स को लेकर मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा लगातार 5 साल प्रदेश की जनता से झूठ मारते रहे, लेकिन  दूसरे विधानसभा चुनावों में जब कांग्रेस का ग्राफ 60 से 40 के आंकड़े पर गिरा तो हुड्डा के मैनेजरों ने 7 आजाद विधायकों तथा 5 हजकां के विधायकों को पलटी मरवाकर काबू कर लिया और फिर पुन: सता में आ गए, लेकिन बीते 3 सालों में केंद्र की यू.पी.ए. सरकार द्वारा लाख करोड़ों के घोटाले उजागर होने तथा उनके सांसद और मंत्री साथी जेल जाने के बाद लोगों की आंखे तो खुली, लेकिन हरियाणा में भी एस.वाई. जैड के नाम पर किसानों की भूमि पर किया गया कब्जा तथा एजुकेशन सिटी के नाम पर छीनी गई जमीन का मुद्दा तूल दे गया है। न तो एस.वाई. जैड पनप पाई और न ही विदेशी यूनिवर्सिटी।अलबता सच्चाई आने के बाद लोगों की भी समझ में आ गया कि मुख्यमंत्री की  जारी 100 घोषणाओं में से 75 घोषणाओं पर ताला लटक गया है। पिछले दिनों मीडिया ने इसे प्रमुखता से उस समय उजागर किया जब एक आर.टी.आई. कार्यकर्ता ने हुड्डा के विकास के खेल का खुलासा कर दिया। खुद केंद्रीय मंत्री कुमारी शैलजा हुड्डा की कार्यशैली पर ऊंगली उठा चुकी है। चौटाला के राज में मिलने वाली 22 घंटे बिजली तथा 140 रुपए का गैस सिलैंडर अभी भी लोगों के जहन में है। एक साल में 6 गैस सिलैंडर की शर्त रखकर कांग्रेस ने आम लोगों की रसोई को बर्बाद करने का काम किया है। कांग्रेस ने देश और प्रदेश में आम लोगों के हितों पर लगातार कुठाराघात तो किया ही, लेकिन दी जाने वाली मूलभूत सुविधाओं में भी जबरदस्त कटौती करके आम जनता को सोचने पर मजबूर कर दिया। अपने मैनेजरों के बल पर चलने वाली कांग्रेस इस बार सता मैनेज नही कर पाएगी क्योंकि पूरे प्रदेश में उठी रोहतक के विकास की बात ने लोगों को सोचने पर मजबूर कर दिया है। कांग्रेस की हालत लगातार पतली होती जा रही है। मुख्यमंत्री की जनसभाओं में लगातार होती नारेबाजी तथा हुटिंग ने कांग्रेस को असलियत दिखा दी है। बंसी लाल की पीठ में खंजर घोंपकर अलग हुई भाजपा सता के लिए लगातार संघर्ष तो कर रही है, लेकिन पिछले कई सालों से वह 90 में से 5 विधानसभाओं में जीत का आंकड़ा तक नही छू पाई। इस बार तो यह आंकड़ा 2 तक ठहर गया है। 8 साल सता से दूर रहने के  बाद भी इनैलों ने आम लोगों के मुद्दों को नही छोड़ा और लगातार सड़कों पर उसे उजागर करती रही। रेवाड़ी रैली की जबरदस्त कामयाबी और फरीदाबाद के वल्लभगढ़ क्षेत्र में हुई जबरदस्त बड़ी जनसभा ने आम लोगों को इनैलों के साथ जुडऩे पर मजबूर कर दिया है। अभी भी प्रदेश के लोग मानते है कि 24 घंटे बिजली देने का मादा केवल इनैलों में है। सरकार आपके द्वार कार्यक्रम के तहत तत्कालीन मुख्यमंत्री ओम प्रकाश चौटाला ने जिस तरह विकास को गांव और कस्बों में पहुंचाया उसे अब लोग याद कर रहे है। कांग्रेस की नैय्या डूबती दिख रही है और भाजपा सता के डोर में फंसती दिखाई दे रही है। इनैलों लगातार मजबूत हो रही है। कहना होगा कि यदि लोकसभा चुनावों में इनैलों ने 10 में से आधा भी आंकड़ा छुआ तो वह निश्चित तौर पर सता के दरवाजे पर होगी।


Read More...

गोपाल कांडा क़ी गिरफ...

2012-08-11 23:09:24

  गोपाल कांडा क़ी गिरफ्तारी को लेकर सिरसा बंद रानियां/सिरसा, (इंडिया विजन) : हरियाणा के पूर्व गृहराज्यमंत्री गोपाल कांडा की गीतिका खुदकुशी कांड में गिरफ्तारी की मांग को लेकर इनेलो के समर्थन से विभिन्न राजनैतिक व सामाजिक संगठनों के आह्वान पर आज सिरसा जिला बंद पूरी तरह सफल व शांतिपूर्वक रहा। जिले के सभी शहरों व कस्बों में बंद को पूर्ण समर्थन मिला। जिले के सभी व्यापारिक संस्थान, दुकानें व बाजार पूरी तरह बंद रहे। सिरसा में जहां बंद का नेतृत्व इनेलो जिलाध्यक्ष पदम जैन ने किया वहीं रानियां में विधायक कृष्ण कंबोज, कालांवाली में विधायक चरणजीत सिंह रोड़ी, डबवाली में पूर्व विधायक डॉ. सीताराम, ऐलनाबाद में पूर्व मंत्री भागीराम के नेतृत्व में बंद  पूरी तरह से सफल व शांतिपूर्वक रहा, जिसमें दुकानदारों ने पूर्ण सहयोग देते हुए अपने-अपने व्यापारिक प्रतिष्ठान बंद रखे।
धर्मनगरी सिरसा की छवि कलंकित करने वाले मंत्री गोपाल कांडा की गिरफ्तारी की मांग पर आज सिरसा शहर में इनेलो जिलाध्यक्ष पदम जैन के नेतृत्व में शहर के सभी बाजारों में दुकानदारों ने दुकानें बंद रखकर बंद को समर्थन दिया। हालांकि बंद को शांतिपूर्वक व सफल बनाने के लिए अलग-अलग बाजारों में इनेलो के वरिष्ठ नेताओं की ड्यूटियां लगाई गई थी। पदम जैन हिसारिया बाजार, पार्षद कृष्ण गुंबर बरनाला रोड, अमीर चावला व कृष्णा फौगाट भगत सिंह चौक, जसबीर सिंह जस्सा अनाजमंडी में कार्यकर्ताओं के साथ मौजूद थे। सिरसा में बंद की खासियत यह रही कि गोपाल कांडा का शू कैंप कार्यालय भी बंद रहा। बंद को कामयाब बनाने के लिए पदम जैन ने सभी दुकानदारों का धन्यवाद किया है। हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग के पूर्व चेयरमैन अमीर चावला ने भूपेन्द्र सिंह हुड्डा पर कांडा का साथ देने के आरोप लगाते हुए कहा कि कांडा पुलिस से जो लुकाछिपी कर रहे हैं उसकी सब जानकारी मुख्यमंत्री को है। उन्होंने मुख्यमंत्री से कांडा को तुरंत पुलिस के हवाले करने की मांग की।
रानियां, ऐलनाबाद, डबवाली में भी बंद बेहद सफल रहा। गोपाल कांडा की गिरफ्तारी की मांग पर बंद का रानियां में भी व्यापक असर दिखाई दिया। विधायक कृष्ण कंबोज के नेतृत्व में इनेलो कार्यकर्ता रानियां के भगत सिंह चौक में एकत्र हुए। उन्होंने पहले नारेबाजी की और फिर प्रदर्शन किया।
डबवाली में पूर्व विधायक डॉ. सीता राम के नेतृत्व में शहर के व्यापारी नेताओं व विभिन्न संगठनों के आह्वान पर गोपाल कांडा को तुरंत गिरफ्तार किए जाने की मांग को लेकर डबवाली शहर पूरी तरह से बंद रहा।
कालांवाली (इंडिया विजन) : आज इनेलो द्वारा हरियाणा के पुर्व मंत्री गोपाल कांडा की गिरफतारी की मांग को लेकर किये गये बंद के आहवान का कालांवाली में मिला-जुला असर दिखा। लोगों ने आज सुबह कालांवाली के विधायक चरणजीत सिंह रोडी के नेतृत्व में इनेलो के कार्यक्रताओं की अपील पर एक बार तो अपने प्रतिष्ठान बंद कर दिऐ, मगर कुछ समय पश्चात बाद दोपहर दुकानें खुल गईं।  व्यापारी वर्ग इस बंद से अपना पल्ला झाड़ता नजर आया। जबकि ग्रामिण क्षेत्र के लोगों ने इस बंद में बढ़-चढ़ कर हिस्सा लिया। इनेलो सर्मथकों ने रेलवे बाजार,पुरानी मण्डी,सबजी मण्डी,डाक्टर मार्किट,भगत सिंह मार्किट व अनाज मण्डी को शांतिपुर्वक बंद करवाया। इस बंद के दोरान किसी भी अप्रिय घटना का समाचार नहीं मिला है।  


Read More...

फिज़ा व गीतिका मामले...

2012-08-11 16:38:15

  फिज़ा व गीतिका मामले की हो निष्पक्ष जांच : चौटाला करनाल/इंद्री, (इंडिया विजन) : इनेलो प्रमुख औमप्रकाश चौटाला ने मांग की है कि फिज़ा व गीतिका की मौत के मामले की उच्च स्तरीय निष्पक्ष जांच करवाई जाये क्योंकि जिस तरह से गीतिका शर्मा मौत के मामले में पूर्व गृह राज्य मंत्री गोपाल कांडा की संलिप्ता सामने आई है ठीक उसी तरह से फिज़ा की मौत के मामले में भी बहुत से सफेद पोश चेहरे बेनकाब होगें। यह बात इनेलो प्रमुख औमप्रकाश चौटाला ने इन्द्री में आयोजित परिवर्तन रैली के दौरान कही। इस अवसर पर उनके साथ विधायक डा. अशोक कश्यप , विधायक नरेंद्र सांगवान, जिला प्रधान यशबीर राणा, नक्षत्र सिंह मल्हान, पूर्व विधायक लक्ष्मण कंबोज, सुमेर कंबोज, मैमन हैदर, इंद्रजीत गोल्ड़ी, जयप्रकाश कंबोज, प्रदीप कंबोज, पिंटू सैनी, जिला प्रवक्ता हरपाल रोड़, वेद नागपाल, सतीश पोसवाल, मंदन मुंजाल, शिव बजाज, हजूर सिंह चकदा, सुरेंद्र सिंह संधू, मदन मोहन चौधरी, रमेश मिड्डा, जसपाल गोल्डी, ओम प्रकाश सलूजा, ज्ञान चंद चावला, गुरदेव रम्बा, गुरदीप व्डैच आदि मुख्यरूप से उपस्थित थे। इस अवसर पर बोलते हुए उन्होंने कहा कि गीतिका शर्मा की तरह ही फिजा की मौत का रहस्य सामने आना इसलिये भी जरूरी है कि चूंकि फि ज़ा का संबध प्रदेश के राजनैतिक घराने के साथ तो रह ही चुका है अब वह स्वयं की भी एक राजनैतिक पार्टी बनाने का ऐलान कर चुकी थी। ऐसे में संदिग्ध परिस्थितियों में फिज़ा का शव मिलना अनेक सवालों को जन्म दे रहा है। साथ ही यह मामला प्रदेश की मां-बहनों की अस्मत व सुरक्षा से भी जुड़ा है। ऐसे में मामले की निष्पक्ष जांच जरूरी है।  इस अवसर पर उन्होंने गीतिका शर्मा आत्महत्या मामले में बोलते हुए कहा कि इस मामले का मुख्य आरोपी गोपाल कांडा आरंभ से अपराधिक प्रवृति का आदमी रहा है। विधान सभा चुनाव के नामाकंन पत्र में दिये गये शपथ पत्र में उन्होंने खुद पर 12 मुकद्दमें होने की जानकारी दी थी। उन्होंने आरोप लगाया कि प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा के संरक्षण  के चलते ही गोपाल कांडा को अभी तक गिरफ्तार नही किया जा सका है। उन्होंने कहा कि गीतिका शर्मा आत्महत्या मामले के पांच दिन बीत जाने के बाद भी गोपाल कांडा की गिरफ्तारी इसी लिये नही की जा रहे ताकि वह बाहर रह कर गवाहों व पीडि़तों पर दबाब बना कर मामले को रफा-दफा कर सके। उन्होंने कहा कि यह मुख्यमंत्री द्वारा भ्रष्ट व चरित्रहीन मंत्रियों को संरक्षण देने का परिणाम है कि आज प्रदेश में महिलाओं की अस्मत सुरक्षित नही है। बेसहारा महिलाओं की सुरक्षा के लिए बनाये गये अपना घर जैसे नारी संरक्षण आश्रम यौन शौषण के अड्डे बन गये है। रोहतक स्थित अपना घर यौन शौषण कांड में मंत्रियों की सरपरस्ती का खुलासा होने के बाद  सरकार को नैतिकता के आधार पर इस्तीफा दे देना था लेकिन प्रदेश का मुख्यमंत्री बड़ी निर्लज्जता के साथ लोगों की भावनाओं के साथ खिलवाड़ कर कुर्सी से चिपका हुआ है। ऐसे में समय आ गया है कि सभी प्रदेश वासी एकजूट हो प्रदेश की अब तक की सबसे भ्रष्ट व चरित्रहीन सरकार को उखाड़ फेकने का काम करे।    


Read More...

कांग्रेस ने सीबीआई का दुरुपयोग कर इनेलो नेताओं को जेल भिजवाया : अभय चौटाला

चंडीगढ़, 5 जुलाई (अनिल लाम्ब...

कांग्रेसी मैनेजरों और सता की लोभी भाजपा की नैय्या मंझधार में

कांग्रेसी मैनेजरों और सता की...

http://haryana.punjabkesari.in/karnal/fullstory/124814660_259652

http://haryana.punjabkesari.in/karnal/fullstory/124811226_259652

गोपाल कांडा क़ी गिरफ्तारी को लेकर सिरसा बंद

  गोपाल कांडा क़ी गिरफ्तारी...

फिज़ा व गीतिका मामले की हो निष्पक्ष जांच : चौटाला

  फिज़ा व गीतिका मामले की ह...

ताजा खबर